तब राहुल भागते थे, अब मोदी भाग रहे हैं!

अनिल जैन

समय का पहिया घूमता है और बडी बेरहमी से घूमता है! पांच साल पहले 2014 के लोकसभा चुनाव अभियान के दौरान नरेंद्र मोदी अपने बहुचर्चित और विश्व प्रसिद्ध 56 इंची सीने की दुहाई देते हुए राहुल गांधी को आमने-सामने की बहस के लिए ललकार रहे थे। राहुल ने उनकी चुनौती स्वीकार नहीं की थी।

अब पांच साल बाद फिर चुनाव होने को है। राहुल गांधी रॉफेल सौदे पर बहस के लिए मोदी जी को आमने-सामने बहस के लिए ललकार रहे हैं तो मोदी बहस करने से ही नहीं बल्कि संसद में बैठकर बहस सुनने से भी कतरा रहे हैं। वे चलती संसद को छोडकर यहां-वहां रैलियां करते हुए ‘मन की बात’ कर रहे हैं।

लेखक अनिल जैन वरिष्ठ पत्रकार हैं.

भक्त

View all posts

Add comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Connect With Us

Advertisement