Author - भक्त

आज के जमाने में भ्रष्टाचार किए बिना कोई प्रधानमंत्री तो क्या, पार्षद भी नहीं बन सकता!

डॉ. वेदप्रताप वैदिक आखिर, आ ही गया लोकपाल… आखिर लोकपाल की नियुक्ति हो ही गई। इस आंदोलन की शुरुआत अब से लगभग पचास साल पहले सांसद डाॅ. लक्ष्मीमल्ल सिंघवी और डाॅ. सुभाष...

सीएम योगी आदित्यनाथ और गवर्नर राम नाइक ने काला चश्मा पहना

ये क्या. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ईमानदार और राज्यपाल राम नाइक के संविधान रक्षक होने के बावजूद सूचना आयुक्तों की जो सूची आयी वह चौकाने वाली है. कोबरापोस्ट के स्टिंग...

भारत अब क्या करे

डा. शशि तिवारी भगवत गीता में भगवान श्री कृष्ण ने कहा क्षत्रिय पुरूष के लिए युद्व एक अवसर होता है और रण क्षेत्र में वीरगति को प्राप्त होना ही उसकी सर्वश्रेष्ठता को...

चौकीदार के रहते चोरी हो गई?

शंभू चौधरी जबसे मोदी जी ने प्रधानमंत्री पद को सुशेभित किया है तबसे ‘चौकीदार’ शब्द की गरिमा को गहरा सदमा लगा है। एकतरफ ‘चायवाले’ सबके सब जश्न माना रहे थे कि उनकी जमात का...

मोदी ‘पायलट प्रोजेक्ट’ पूरा करने में अमरीका और सऊदी अरब की भूमिका के बारे में चुप क्यों हैं?

पुलवामा घटना के बाद देश का राजनीतिक वातावरण तेजी से बदल गया। युद्ध का माहौल चौतरफा बनने लगा और युद्धोन्मादियों की बन आयी। पाकिस्तान में भारत को देख लेने के नाम पर उन्माद...

डैमेज कंट्रोल के लिए राहुल-प्रियंका पहुंचेंगे अमेठी

अजय कुमार, लखनऊ घोड़ों की रेस में लंगडे़ घोडे़ पर कोई दांव नहीं लगाता है, लेकिन बात जब सियासी ‘रेस’ की होती है तो इसमें ‘रेस’ के शौकीनों द्वारा अपने मजबूत और विपक्ष के...

शुक्रिया पाकिस्तान!

गोविंद गोयल श्रीगंगानगर। सैल्यूट अभिनंदन को! एक बार नहीं, बार बार और हर बार सैल्यूट! सैल्यूट केवल शब्दों से नहीं बल्कि पूरे मन, कर्म और वचन से। सैल्यूट अभिनंदन! यह...

क्या सहारा वाले नकली देशभक्त हैं?

चरण सिंह राजपूत साथियों नकली देशभक्तों से सावधान होने की जरूरत … आज अखबार में सहारा प्रबंधन और कर्मियों को कश्मीर में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों को श्रंद्धाजलि देने...

मोदी ने झूठे सपने दिखाए, अब बदलाव की जरूरत

डा. शशि तिवारी कुछ चीजें हमें प्रकृति से सीखना चाहिए यूं तो प्रकृति हमें बहुत पहले से ही शुभ- अशुभ का संदेश देना शुरु कर ही देती है। ये हमारा ज्ञान ही है कि हम उसे...

इस तरीकों से किया जा सकता है पाकिस्तान का हमेशा के लिए इलाज!

ऋतुपर्ण दवे [email protected] पुलवामा आतंकी हमले के बाद सुरक्षा में चूक को लेकर सवाल स्वाभाविक हैं और उठना भी चाहिए। ढ़ेरों पैकेटों लदे विस्फोटक से भरे वाहन को लेकर...

Connect With Us

Advertisement